Home Sexual health सांडे के तेल के फायदे, नुकसान और लगाने का सही तरीका -...

सांडे के तेल के फायदे, नुकसान और लगाने का सही तरीका – sanda oil benefits and side effect in Hindi

सांडे का तेल – sanda oil in Hindi

दोस्तों बाजार ( sanda oil in hindi ) में ऐसी बहुत सी दवाएं या तेल उपलब्ध है, जो मर्दानी ताकत बढ़ाने का दावा करती है, लेकिन उनमें से कुछ ही कारगर है उनमें से एक है sanda ka tel

Sanda ka tel ना सिर्फ मर्दानी ( sanda oil uses in hindi ) ताकत को बढ़ाता है, बल्कि बहुत सारी गुप्त बीमारियों को भी खत्म करता है. सांडे का तेल शीघ्रपतन, स्वप्नदोष, नपुंसकता, सेक्स करने की क्षमता और अधिक हस्तमैथुन के कारण आई कमजोरी को दूर करने में काफी कारगर है.  

लेकिन अफसोस ( sanda oil uses in hindi ) की बात यह है कि आज original सांडे का तेल sanda oil मिलना बहुत मुश्किल है. बाजार बहुत सारी कंपनियां असली सांडे का तेल बेचने का दावा तो करती है, लेकिन उनमें से ज्यादातर सांडे का तेल नकली होता है. सांडे का तेल sanda oil सांडा नमक छिपकली की तरह दिखने वाला जानवर के तेल से बनाया जाता है, जो पाकिस्तान के रेगिस्तानी इलाकों में पाया जाता है. इसको पकड़ना या बेचना गैरकानूनी है. 

सांडे के तेल फायदे – sanda oil benefits in Hindi

सांडे के तेल ( sanda oil benefits in hindi ) का इस्तेमाल से बहुत सारे फायदे होते हैं. जिनका वर्णन नीचे किया गया है. 

1. सांडे के तेल के इस्तेमाल से आप अपने लिंग की साइज को बड़ा सकते है. 

2. इस तेल का उपयोग कर लिंग को मजबूत, कठोर और कड़क बना सकते है. 

3. यह शीघ्रपतन को रोकता है. 

4. यह आपके सेक्स टाइम हो काफी बढ़ा देता है.

5. यह आपकी यौन शक्ति को बढ़ा देता है. 

6. इसके इस्तेमाल लिंग में रक्त प्रवाह काफी बढ़ जाता है.

7. इस तेल का इस्तेमाल कर आप अपनी मरदानी कमजोरी को भी दूर कर सकते हैं. 

8. यह आपके नपुंसकता को भी दूर करता है. 

9. यह आपके स्वपन दोष को भी दूर करता है.

सांडे तेल के नुकसान – sanda oil side effect in Hindi

इसके इस्तेमाल ( sanda oil side effect in Hindi ) से कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है. सांडे का तेल sanda oil का साइड इफेक्ट तभी होता है जब इसमें मौजूद किसी तत्व से आपको एलर्जी हो. अधिक जानकारी के लिए अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करे. सांडे के तेल का इस्तेमाल शराब के साथ नहीं करना चाहिए, नहीं तो यह सेहत के लिए काफी खतरनाक साबित होता है.

सांडे के तेल के घटक – sanda oil ingredients in Hindi

सांडे के तेल ( sanda oil uses in hindi ) में मिश्रित सामग्री की बात करे, इसे कई जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है जैसे – 

1. अश्वगंधा

2. कलौंजी का तेल 

3. धतूरा 

4. सुरा सुर 

5. सरसो का तेल 

6. सांडे का चर्बी

सांडे तेल लगाने की विधि या तरीका – sanda oil uses in Hindi

इस तेल से लिंग ( sanda ke tel se ling par malish karne ke fayde ) पर मालिश किया जाता है. सांडे के तेल sanda oil से लिंग पर मालिश करने से लिंग के नशों में गर्माहट बढ़ती है. लिंग के नशों में गर्मी बढ़ने से का कारण रक्त के परवाह की गति काफी बड़ जाती है. रक्त प्रवाह में इजाफा होने के कारण सेक्स करने कि क्षमता में इजाफा होता है. और आपकी सेक्स टाइम भी बढ़ता है. और आप अपने आप से पूर्ण संतुष्ट हो पेट है. 

सांडे का तेल किस काम आता है – sanda oil kis kaam  aata hai 

सांडे का तेल ( sanda oil uses in hindi ) बनाने वाली कंपनियां ऐशा दवा करती है, कि यह सिर्फ मर्दानी ताकत बढ़ाने में ही नहीं और भी चीजों मैं काफी फायदेमंद है. जैसे – बदन दर्द, फालिज मरने और पुट्ठो की कमजोरी में भी काफी फायदेमंद साबित होता है.

सांडे का तेल कितने में मिलता है – sanda oil price 

सांडे के तेल ( sanda oil price in hindi ) दाम की बात करे तो, इसे बहुत सारी कंपनियों द्वारा बनाया जाता है. सभी कंपनियों के दाम अलग अलग है. जो 250 रुपया से सुरु होकर 500 रुपया तक है. इसे खरीदने के लिए आप को कहीं जाने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ये आपके नजदीकी दवाई की दुकान में मिल जाएंगे. यह ऑनलाइन वेबसाइट पर भी बिक्री के लिए उपलब्ध है.

सांडे के तेल के बारे डॉक्टर से सवाल और उनके जवाब 

Q1. सांडे के तेल का इस्तेमाल कितने दिनों तक करना चाहिए. 

अगर आप सांडे का तेल इस्तेमाल 3 महीनों तक करते है, तो यह आप के बहुत कारगर साबित होगा. इसके 1 महीने तक इस्तेमाल करने से असर दिखना शुरू हो जाते है. 

Q2. क्या सांडे का तेल का अधिक इस्तेमाल से इसकी आदत लग जाती है. 

सांडे के तेल को प्राकृतिक चीजों से बनाया जाता है. अतः सांडे के तेल के इस्तेमाल से लत लगने की संभावना बहुत कम है. लेकिन सांडे के तेल का इस्तेमाल अधिक ना करे.

Q3. सांडे के तेल इस्तेमाल सेक्स करने कितने देर पहले करना चाहिए. 

सांडे के तेल का इस्तेमाल सेक्स करने से 1 घंटा पहले करना चाहिए. क्यूंकि किसी भी तेल को असर करने में कम से कम एक घंटे का समय अवश्य लगता है.

Q4. क्या सांडे के तेल का इस्तेमाल महिलाएं भी कर सकती हैं? 

नहीं, इसका इस्तेमाल केवल पुरुष ही कर सकते हैं. क्यूंकि इसका इस्तेमाल केवल लिंग के उपरी भाग पर किया जाता है. 

Q5 . सांडे के तेल का इस्तेमाल एक दिन में कितनी बार करना चाहिए. 

सांडे के तेल sanda oil side effects in Hindi का इस्तेमाल आप एक दिन मैं 2 बार या उससे अधिक भी कर सकते हैं. इसका इसतेमाल आप सेक्स करने से पहले कर सकते हैं.

Health Expertshttps://othershealth.in
Health experts: आजकल की जीवनशैली ऐसी है की लोग विभीन्न तरह की बीमारियों से पीड़ित है और दवा लेते लेते थक चुके है। Othershealth.in के माध्यम से आप अच्छे से अच्छा घरेलू उपचार और चिकित्सा कर सकते है। हम Doctors and Experts की टीम है,जिसमे चिकित्सा विशेषज्ञ के द्वारा यह जानकारी दी गयी है की हम एक अच्छी और स्वस्थ जीवन कैसे जी सकते हैं।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

ज़ालिम लोशन के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – zalim lotion uses, benefits and side effect in Hindi

ज़ालिम लोशन - zalim lotion in Hindi आज हम इस आर्टिकल में ज़ालिम लोशन ( zalim lotion in hindi )...

जापानी एम कैप्सूल के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – japani m capsule uses, benefits and side effect in Hindi

जापानी एम कैप्सूल - japani m capsule in Hindi आज हम इस आर्टिकल में जापानी एम कैप्सूल ( japani...

स्टेमेटिल टैबलेट के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – stemetil md tablet uses, benefits and side effect in Hindi

स्टेमेटिल एमडी टैबलेट - stemetil md tablet in Hindi   हम इस आर्टिकल में स्टेमेटिल एमडी टैबलेट ( stemetil md tablet...

बर्नोल क्रीम के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – burnol cream uses, benefits and side effect in Hindi

बर्नोल क्रीम - burnol cream in Hindi आज हम इस आर्टिकल में बर्नोल क्रीम ( burnol cream in Hindi...

दिव्य मेदोहर वटी के फायदे, नुकसान और सेवन करने की विधि – Divya medohar vati uses, benefits and side effect in Hindi

दिव्य मेदोहर वटी - Divya medohar vati in Hindi दिव्य मेदोहर वटी Divya medohar vati uses in hindi एक...