Ayurveda

शिलाजीत रसायन वटी के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – shilajit rasayan vati uses, benefits and side effect in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी – shilajit rasayan vati in Hindi

आज हम इस Shilajit rasayan vati in hindi आर्टिकल में शिलाजीत रसायन वटी के बारे में विस्तार से जानने की कोशिश करेंगे. कि यह किस काम में आता है, इसके फायदे किया है, इसके नुकसान किया है, इसे कोन कोन इस्तेमाल कर सकता है. इन सभी चीजों को हम विस्तार में नीचे जानेंगे. 

क्या है शिलाजीत रसायन वटी  – what is shilajit rasayan vati in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी एक प्रकार की आयुर्वेदिक औषधि है. इसे सिर्फ पुरषों के Shilajit rasayan vati uses in hindi इस्तेमाल व सेवन के लिए बनाया गया है. इसे खाने से पुरषों को कई प्रकार की बीमारियों से बचाता है. इसके लगातार सेवन से पुरषों की यौन शक्ति में काफी वृद्धि होती है. 

इतना ही नहीं यह शरीर की सभी कोशिकाओं को भी मजबूत बनाता है. इसके सेवन से चिड़चिड़ापन, थकावट, कम में मन नहीं लगना, शारीरिक कमजोरी, शरीर में दर्द, कमर में दर्द, जोड़ों में दर्द, सांस फूलने जैसी कई समस्याओं से छुटकारा दिलाता है. 

जैसा कि आप नाम Shilajit rasayan vati uses in hindi से ही जन गए होंगे कि इसमें शिलाजीत का उपयोग किया गया होगा. जो शरीर के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने का काम करता है. इतना ही नहीं इसके सेवन से नपुंसकता, ec ( इरेक्टल दिकफंक्शन ), स्वप्नदोष और शीघ्रपतन जैसे समस्याएं जड़ से खत्म हो जाती है. 

इस दवा को बनाने में केवल शिलाजीत ही नहीं, बल्कि और भी बहुत सी जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है जैसे – शिलाजीत, लौह भस्म, अश्वगंधा, बुंग भस्म, दालचीनी, सोठ, मूसली जैसे और भी कई जड़ी बूटियां होती है. जो यौन शक्ति को बढ़ा देता है. 

अगर आपको Shilajit rasayan vati uses in hindi भी किसी प्रकार का गुप्त रोग की समस्या है, तो आप को इसका सेवन करना चाहिए. लेकिन आपको इसके सेवन से पहले किसी गुप्त रोग विशेषग से परामर्श लें लेना चाहिए. बिना परामर्श के दवा का सेवन नहीं करना चाहिए. नहीं तो आपको नुकसान भी हो सकता है. 

शिलाजीत रसायन वटी के घटक – shilajit rasayan vati ingredients in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी में बहुत से जड़ी बूटियों का उपयोग किया जाता है. जिसके Shilajit rasayan vati uses in hindi बारे में हम आपको नीचे विस्तार से बताने की कोशिश करेंगे. साथ ही यह भी जानने की कोशिश करेंगे कि उन जड़ी बूटियों के फायदे किया है और नुकसान किया किया है. 

1. शिलाजीत 120  मिलीग्राम

2. अश्वगंधा 60 मिलीग्राम 

3. तिर्फला चूर्ण 60 मिलीग्राम

4. भूमि अमला 60 मिलीग्राम

शिलाजीत रसायन वटी सेवन विधि – shilajit rasayan vati uses in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी  सेवन की बात करे, तो आप इसे दिन में दो बार खाने के बाद ले सकते हैं. इसे आप अगर दूध के साथ लेते हैं, तो फायदा अधिक होता है. इसका सेवन हमेशा खाना खाने के बाद करना चाहिए. नहीं तो इसे खाली पेट लेने से आपको नुकसान हो सकता है. और अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श कर लें. इसका सेवन आपको 3 महीने तक लगातार करना चाहिए. तभी यह अपना असर दिखाएगा. 

शिलाजीत रसायन वटी के फायदे – shilajit rasayan vati benefits in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी की बात करे, तो इसके बहुत से फायदे है जैस –

स्वप्नदोष : यह एक ऐसी समस्या है, जिससे बहुत से लोग परेशान हैं. शिलाजीत रसायन वटी के सेवन से स्वप्नदोष खत्म हो जाता है. स्वप्नदोष के कारण हमारी शरीर में कमजोरी आ जाती है. स्वप्नदोष की वजह से में चिड़चिड़ा भी हो जाता है. और आपने साथी को संतुष्ट भी नहीं कर पाते. जिस वजह से आपको सर्मिंदगी महसूस होने लगती है. लेकिन अगर आप इसके सेवन करते हैं, तो स्वप्नदोष की समस्या जड़ से खत्म हो जाती है. 

वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में : शिलाजीत रसायन वटी में बहुत से ऐसे घटक होते हैं. जिसके गुण हमारे प्रजनन शक्ति को काफी बड़ा देते हैं. जिससे हमें सेक्स करने में बहुत आनंद मिलता है. और हम अपने साथी को खुश कर पाते हैं. इतना ही नहीं शिलाजीत रसायन वटी हमारे वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या भी बड़ा देते है. जिससे नपुंसकता कि कमी भी दूर हो जाती है. 

मर्दानी ताकत को बढ़ाने में : शिलाजीत रसायन वटी में मौजूद शिलाजीत का उपयोग खास कर मर्दों के मर्दानी ताकत को बढ़ाने में किया जाता है. शिलाजीत एक ऐशा घटक है, जिसके इस्तेमाल मर्दों कि बहुत सी गुप्त रोग कि समस्या से छुटकारा मिलता है. शिलाजीत उन मर्दों के लिए किस वरदान से कम नहीं है. जिनका लिंग ठीक से खड़ा नहीं हो पाता है. यह लिंग के उन मशो में दुबारा जान डाल देता है. और आपका लिंग पुनः खड़ा होने लगता है. 

शिलाजीत रसायन वटी के नुकसान – shilajit rasayan vati side effect in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी नुकसान की बात करे, तो इसके अधिक सेवन से आपको साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं. वैसे यह एक आयुर्वेदिक औषधि है और इसमें जिन घटक का इस्तेमाल किया गया है. वो सभी घटक इंसानी शरीर के लिए अमृत के समान है. इसलिए इसके साइड इफेक्ट की संभावना कम है. इसके साइड इफेक्ट उन्हीं को देखने को मिलते हैं. जिनको इसमें मौजूद किसी सामग्री से एलर्जी हो. यह पूरी तरह आयुर्वेदिक है. और सुरक्षित भी. 

शिलाजीत रसायन वटी का उपयोग कोन से बीमारियों में किया जाता है – shilajit rasayan vati uses in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी का उपयोग बहुत सी बीमारियों मैं होता है. और बहुत सी बीमारियों मैं यह बहुत कारगर भी सभित हुआ है. इसलिए बहुत से डॉक्टर इसका सेवन करने की सलाह देते है. यह जिन बीमारियों में इस्तेमाल किया जाता है. उन सभी का वर्णन नीचे किया गया है. 

1. नपुंसकता में

2. मर्दाना में.

3. स्वप्नदोष में.

4. शारीरिक कमजोरी में

5. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में. 

6. पुरषों के यौन रोग में. 

7. पुरषों के यौन क्षमता को बढ़ाने में

8. शुक्राणु की गुणवत्ता को सुधारने या बढ़ाने में. 

9. शरीर में ऊर्जा का संचार बढ़ाने में. 

10. मानसिक कमजोड़ी को दूर करने में. 

11. चिंता जैसी समस्या को दूर करने में

12. शुक्राणु की वृद्धि में. 

इन जैसे और भी बहुत से समस्याओं मैं शिलाजीत रसायन वटी का उपयोग होता है. इसके बारे में विस्तार से जानने के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें. 

शिलाजीत रसायन वटी का इस्तेमाल करते वक़्त किया किया सावधानी बरतनी चाहिए – shilajit rasayan vati precaution in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी का इस्तेमाल करते वक़्त कुछ सावधानियां भी बरतनी चाहिए. नहीं तो यह आपके लिए नुकसानदेह भी हो सकता है. शिलाजीत रसायन वटी का इस्तेमाल करते वक़्त किया सावधानी बरतनी चाहिए. इसका वर्णन नीचे किया गया है. 

1. शिलाजीत रसायन वटी को बच्चे की पहुंच से दूर रखना चाहिए. क्योंकि हो सकता है यह बच्चे के लिए नुकसानदेह हो. 

2. 18 साल से कम उम्र के लड़के को शिलाजीत रसायन वटी का सेवन नहीं करना चाहिए. क्योंकि इसे 18 साल से अधिक उम्र वाले लोगो के लिए बनाया गया है. फिर भी अगर कोई लड़का इसका सेवन कर लेता है, तो उसे अपने डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिए. 

3. शिलाजीत रसायन वटी का सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए. नहीं तो परिणाम घातक हो सकते हैं. 

4. शिलाजीत रसायन वटी का सेवन कभी भी शराब के साथ ना करे. नहीं तो यह आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं. 

5. शिलाजीत रसायन वटी में मौजूद अगर किसी सामग्री से आपको एलर्जी है, तो आपको इसका सेवन करने से बचना चाहिए. 

6. अगर आप किसी अन्य विटामिन वाले दवा का सेवन कर रहे है, तो इसका सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से संपर्क कर लें. 

शिलाजीत रसायन वटी का मूल्य – shilajit rasayan vati price in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी के मूल्य की बात करे, तो कीमत ज्यादा नहीं है. पतंजलि के दिव्य शिलाजीत रसायन वटी का मूल्य 70 रुपए है. इसके अलावा और भी बहुत सी कंपनी है, जो शिलाजीत रसायन वटी का उत्पादन करती है. जैसे – डाबर, वैद्यनाथ, पतंजलि और भी बहुत सारी छोटी कंपनियां है. इसे खरीदने के लिए आप अपने नजदीकी दवाई दुकान जा सकते हैं. यह फिर आप इसे ऑनलाइन वेबसाइट से भी खरीद सकते हैं. 

Read More : सांडे के तेल के फायदे, नुकसान और लगाने का सही तरीका – sanda oil benefits and side effect in Hindi

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button