Home Disease स्कैबीस (खाज) के कारण, लक्षण एवं घरेलू इलाज (Causes, Symptoms & Treatment...

स्कैबीस (खाज) के कारण, लक्षण एवं घरेलू इलाज (Causes, Symptoms & Treatment Of Scabies In Hindi)

Causes Of Scabies In Hindi

स्कैबीस (खाज) क्या है? (Scabies Meaning In Hindi)

Scabies – हमारी त्वचा हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है जिसकी देखभाल के लिए हम बहुत सतर्क रहते है| बाकी अंगो की तरह त्वचा में भी कई तरह के संक्रमण होने का खतरा होता है, उन्ही संक्रमणों में से एक स्कैबीस है|  अगर स्कैबीस का तुरंत इलाज ना किया जाए तो यह बढ़ कर बहुत दुखदाई हो सकती है पर सही समय पर इलाज कर लेने पर पूरी तरह से ठीक भी हो जाती है|

Scabies एक सूक्ष्म परजीवी के कारण होता है जिसको Sacroptesscabiti कहते है| इसको mite भी कहते है और यह बहुत तेज़ी से संक्रमण फेलाता है| यह पीड़ित इंसान से दुसरे व्यक्ति तक आसानी से पहुँच जाता है|  जिन परिवारों में कई लोग होते है या हॉस्टल व् अस्पताल में एक दुसरे के संपर्क में आने से बहुत जल्दी फेलता है| पीड़ित व्यक्ति की त्वचा व् उसके इस्तेमाल किये हुए कपडे, बर्तन,पीड़ित व्यक्ति से साथ शारिरिक सम्बन्ध बनाने व् माँ से बच्चे में आसानी से यह संक्रमण फैल जाता है| व्यक्ति के शरीर के बाहर भी यह 3 से 4 दिन तक पनप सकता है और फैल जाता है| यह संक्रमण किसी भी उम्र व् अवस्था में व्यक्ति को हो सकता है|  जरुरी नहीं की गंदे परिवेश में रहने वाले ही इससे ग्रसित हो यह संक्रमण साफ सुथरे परिवेश में रहने वालों को भी हो सकता है| स्कैबीस होने पर कुछ दिन तक इसके लक्षण नहीं दिखते पर इसका संक्रमण तब भी फैल सकता है|

स्कैबीस (खाज) संक्रमण होने के कारण (Causes Of Scabies In Hindi)

Scabies फैलाने वाले mites बेहद सूक्ष्म होते है और मादा mite आसानी से त्वचा में पाए जाने वाले छिद्रों में घुस कर अंडे देती है और इनकी संख्या लगातार बढती जाती है| इसका लार्वा त्वचा में चिपक कर शरीर के दुसरे हिस्सों में फैलता रहता है|

स्कैबीस (खाज) के लक्षण (Symptoms Of Scabies In Hindi)

  1. स्कैबीस का मुख्य लक्षण है त्वचा में लगातार खुजली होना|
  2. रात के समय खुजली बढ़ जाती है और खुजली के कारण त्वचा में गर्मी पैदा होती है जिसकी वजह से mite और भीषण तरह से काटते है और खुजली बढ़ जाती है|
  3. आमतौर पर उँगलियों के बीच, नाभि के पास, जांघों के बीच व् बगल में खुजली ज्यादा परेशान करती है|
  4. वह अंग जो की कपडे या आभूषण से ढंके रहते है जैसे व्यक्ति के जननांग, गला, कलाई आदि पर स्कैबीस जल्दी दिखाई देता है तथा शरीर के वह हिस्से जिन पर अधिक खुजली होती है उन पर त्वचा में लाल चक्कते से पड़ने लगते है और घाव भी बन जाते है|
  5. यदि किसी व्यक्ति को पहले कभी त्वचा रोग हुआ हो तोस्कैबीस के लक्षण जल्दी दिखने लगते है अन्यथा 4 से 6 हफ्तों में इसके लक्ष्ण पूरी तौर पर दिखाई देने लगते है|

स्कैबीस (खाज) का इलाज (Treatment Of Scabies In Hindi)

यदि परिवार में किसी को स्कैबीस होने का शक हो तो उसे तुरंत डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए क्यूंकि सिर्फ देख कर यह पता नहीं चलाया जा सकता की व्यक्ति को स्कैबीस है| डॉक्टर त्वचा पर होने वाले दाने व् घाव को देख कर पहचान करने में सक्षम होते है तथा त्वचा का सैंपल ले कर माइक्रोस्कोपिक परिक्षण कर के त्वचा में पनप रहे mites को देख कर स्कैबीस को पहचान जाते है| ध्यान रखने वाली बात यह है की स्कैबीस अपने आप ठीक नहीं होती इसका पूर्ण रूप से इलाज होना ज़रूरी होता है|

  1. स्कैबीस का पता चलते ही डॉक्टर सलाह देते है की पीड़ित व्यक्ति के कपडे, बर्तन आदि को अलग किया जाए ताकि यह परिवार के अन्य लोगो में ना फैले|
  2. स्कैबीस से पीड़ित व्यक्ति के परिवार के हर सदस्य का इलाज किया जाता है ताकि अगर कोई mite उन तक पंहुचा है तो पनपने से पहले उसका निदान हो जाये|
  3. यदि स्कैबीस से पीड़ित व्यक्ति की त्वचा पर घाव हो तो उसकी साफ़ सफाई नियमित रूप से की जानी चाहिए ताकि वह बाकी अंगो तक न पहुंचे|
  4. दवा लेने के बाद भी 2 से 4 हफ़्तों तक खुजली बने रहने कि सम्भावना होती है और 4 हफ्ते बाद भी आराम ना मिले तो डॉक्टर से दुबारा इलाज करवाना चाहिए|
  5. स्कैबीस के इलाज के लिए डॉक्टर पेर्मेथ्रिन नामक दवा का प्रयोग करते है जिसमे कीटनाशक होंते है और इसको शरीर पे लगाने से स्कैबीस के mites मर जाते है| इस क्रीम को गरम पानी से नहाने के बाद के गले, हाथ, उँगलियों, नाख़ून व् पेरो पर अच्छे से लगा कर रात भर के लिए छोड़ दिया जाता है|
  6. स्कैबीस के इलाज के लिए प्रयोग में लाने वाली दूसरी दवा ivermectin है|
  7. दवा के साथ डॉक्टर पुरे शरीर में बॉडी लोशन लगाने के भी सलाह देते है जिससे त्वचा में नमी बनी रहती है और खुजली में आराम मिलता है|
  8. यदि व्यक्ति रात में खुजली के कारण ना सो पाए तो डॉक्टर उसे हलकी नींद की दवा लेने की सलाह देते है ताकि व्यक्ति को रात में आराम मिल सके|
  9. स्कैबीस से होने वाली खुजली में आराम के लिए हलके कपड़े को ठंडे पानी में भिगो कर त्वचा पे रखने पर भी आराम मिलता है|

स्कैबीस (खाज) से बचाव (Precautions Of Scabies In Hindi)

  1. दवा से अच्छा बचाव है इसलिए ज़रूरी है की हम अपने शरीर व् कपड़ों को साफ़ रखे|
  2. गीले या हलकी नमी वाले कपड़े ना पहने|
  3. अपने अंडर गारमेंट्स को कड़ी धूप में सुखा कर ही पहने|
  4. अपनी बेडशीट्स को नियमत रूप से बदले व् बेड पर बैठ कर खाना ना खाएं|
  5. अपने घरों में प्लास्टिक की थेलियाँ जमा ना करें क्यूंकि उनमे जमी गन्दगी से स्कैबीस के mites जन्म ले सकते है|
  6. 1 हफ्ते से ज्यादा खुजली की शिकायत होने पर तुरंत डॉक्टर से चेक कराएँ|

ध्यान रखें (Helpful Tips)

  1. यदि दवा प्रयोग में करने के बाद 4 हफ़्तों से अधिक खुजली बनी रहे तो दुबारा इलाज करवाएं|
  2. यदि डॉक्टर से बताये नियम के अनुसार दवा का प्रयोग ना किया गया तो स्कैबीस ठीक नहीं होती है|
  3. बिना डॉक्टर की सलाह के अपने आप स्कैबीस का उपचार ना करें|

FDA Compliance

इन बयानों का मूल्यांकन खाद्य एवं औषधि प्रशासन द्वारा नहीं किया गया है। स्थिति गंभीर होने पर कृपया चिकित्सक से परामर्श लें।

Health Expertshttps://othershealth.in
Health experts: आजकल की जीवनशैली ऐसी है की लोग विभीन्न तरह की बीमारियों से पीड़ित है और दवा लेते लेते थक चुके है। Othershealth.in के माध्यम से आप अच्छे से अच्छा घरेलू उपचार और चिकित्सा कर सकते है। हम Doctors and Experts की टीम है,जिसमे चिकित्सा विशेषज्ञ के द्वारा यह जानकारी दी गयी है की हम एक अच्छी और स्वस्थ जीवन कैसे जी सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

क्या हो आपकी आपकी हेल्दी डाइट – national nutrition week

national nutrition week - नेशनल न्यूट्रिशन वीक स्वस्थ रहने के लिए पोषक खुराक शरीर की पहली जरूरत है, जिसे...

प्रीमेच्योर डिलीवरी होने के कारण, लक्षण व बचने के उपाय – premature delivery ...

कई बार अनेक कारणों से बच्चे का जन्म समय पूर्व हो जाता है. ऐसे शिशु को गर्भ...

हैपेटाइटिस : प्रकार, लक्षण, कारण, उपचार और दवा – hepatitis symptoms in Hindi

हैपेटाइटिस - hepatitis in hindiदुनिया में हर 12वां व्यक्ति हेपेटाइटिस से पीड़ित है. इसके पीड़ितों की संख्या कैंसर या एचआईवी पीड़ितों से भी...

थकान दूर कैसे करें और खुद को स्वस्थ कैसे रखे – How to relieve fatigue and keep yourself healthy

आज हर व्यक्ति अपने जीवन यापन के लिए दिन-रात कार्य में व्यस्त है. इस कार्य में उसके पास अपने लिए भी समय...