Home Healthy Diet पौष्टिक तत्वों से भरपूर आम के फायदे और नुकसान - mango benefits...

पौष्टिक तत्वों से भरपूर आम के फायदे और नुकसान – mango benefits and side effect in Hindi

आम सभी का पसंदीदा फल है. इसमें विटामिन, मिनरल्स और एंजाइम अधिक मात्रा में पाई जाती है. विटामिन सी के प्रचुरता के कारण यह एंटीऑक्सीडेंट का अच्छा स्रोत है. यह बॉडी को फ्री रेडिकल्स से सुरक्षा कवच प्रदान करता है. इसमें मौजूद फाइबर वजन काम करने में सहायक होता है. प्रति 100 ग्राम फल में 1.6 ग्राम डाइटरी फाइबर होता है. पौष्टिक तत्वों से भरपूर आम. 

आम खाने के फायदे – aam khane me fayde 

  1. हाइड्रेटेड रखने में कारगर : अक्सर गर्मियों में डिहाइड्रेशन की समस्या होती है. आम में पानी की प्रचुरता होती है. इसके प्रति 100 ग्राम में 83.46 ग्राम पानी होता है. इसका सेवन हमें कुल व हाइड्रेटेड रखता है.पौष्टिक तत्वों से भरपूर आम इसके ड्रिंक्स और फूड आपको तरोताजा रखते हैं.
  2. विटामिन सी की प्रचुरता : आम विटामिन ए, के और सी से भरपूर होता है. यह हड्डियों के विकास के लिए बहुत अच्छी होती है. यह हड्डी बनाने वाली कोशिकाओं के उत्पादन को उत्तेजित करता है.
  3. पाचन शक्ति की मजबूती : यह डाइजेस्टिव सिस्टम को मजबूत बनाता है. इसमें डाइजेस्टिव एंजाइम होते हैं, जो नेचुरल पाचन क्रिया को सही रखते हैं. इस एंजाइम से प्रोटीन और फाइबर टूटते हैं और डाइजेशन सुचारू रूप से होता है. इसके डाइटरी फाइबर टाइप-2 डायबिटीज से जुड़ी बीमारियों के जोखिम को कम करता है. 
  4. ड्राई आंखों से बचाव : यह beta-carotene से भरपूर होता है, जो एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है. यह आंखों की सेहत के लिए लाभदायक है. इसका विटामिन ए ड्राई आंखों से बचाव में मददगार है.
  5. इम्यूनिटी बूस्टर : विटामिन सी कोल्ड और फ्लू से बचाव करता है. इसमें मौजूद विटामिन एक फ्री रेडिकल्स के खिलाफ सुरक्षा कवच प्रदान करते हैं. एंटी ऑक्सीडेंट की मात्रा शरीर की प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाती है. 
  6. वेट लूज करने में मददगार : आम की गुठली के रेशे शरीर की अतिरिक्त चर्बी को कम करती है. इसे खाने के बाद भूख कम लगती है. जिससे ओवर ईटिंग का खतरा कम हो जाता है. यह फैट फ्री, कोलेस्ट्रोल फ्री और लोड फ्री होता है, जिससे वजन नहीं बढ़ता. डाइट में इसे शामिल करके फिटनेस सही रख सकते हैं. 


ब्लड प्रेशर नियंत्रित रखता है आम 

आम में सैचुरेटेड फैट, कैस्ट्रॉल और सोडियम की मात्रा काफी कम होती है. साथ ही यह आहार संबंधी फाइबर, विटामिन ई-6, विटामिन ए का भी अच्छा स्रोत माना जाता है. कई लोग डरते हैं कि आम खाने से कहीं उनका वजन ना बड़ जाए या फिर आम खाने से कहीं उनका ब्लड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ना बढ़ जाए. 
लेकिन वास्तविकता यही है कि आम खाने से उतना अधिक वजन नहीं बढ़ता है. यदि इसका अत्याधिक सेवन किया जाए, तो ही संभव है कि वजन बढ़े. यदि आप आम को नियंत्रित हो कर खाते हैं, तो इससे वजन नहीं बढ़ता, बल्कि स्वास्थ्य को लाभ ही होता है. गर्मी में आम खाना अच्छा है, लेकिन डायबिटीज के मरीजों को आम का सेवन कम करना चाहिए.

आम में है अनेक पोषक तत्व 

इसमें विटामिन सी, विटामिन इ-6, पोटेशियम, कॉपर और विटामिन ए होता है. यह फैट फ्री और लो केलोस्ट्रोल वाला फल है. इसमें आयरन फाइबर और कार्बोहाइड्रेट होते हैं पौष्टिक तत्वों से भरपूर आम.


क्या है फायदे : आम कैस्ट्रॉल को नियंत्रित रखता है. आम में हाई लेवल में विटामिन सी, पेक्टिन और रेशा होता है, जो सीरम कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में मदद करता है. ताजे आम में पोटेशियम ज्यादा होता है जो ब्लड प्रेशर और हार्ट रेट को नियंत्रित रखता है.


जूस बेहतर है या ताजे आम : जूस की जगह पर ताजा आम खाना ज्यादा फायदेमंद है. जूस में समूचे आम की तरह रेशे नहीं प्राप्त होते हैं.


लू से बचाता है आम पन्ना : गर्मी में आम का पन्ना भी सेहत के लिए काफी फायदेमंद है. कच्चे आम और चीनी से बनाया जाता है. अपने स्वाद के अनुसार इसे बिना चीनी के सिर्फ नमक और हल्का जीरा आदि डालकर भी ले सकते हैं.
लू लगने पर आम के पन्ना का सेवन करने से काफी राहत मिलती है. यह बहुत टेस्टी होता है और पसीने के माध्यम से निकलने वाली सोडियम और जिंक को वापस देता है. इसमें विटामिन सी ज्यादा होता है. जो ब्लड डिसऑर्डर से बचाता है. टीवी, एनीमिया, हैजा जैसी बीमारी में यह टॉनिक का काम करता है. पौष्टिक तत्वों से भरपूर आम.


एक दिन मैं कितना आम खाना चाहिए – ek din main kitna aam khana chahiye 


पौष्टिक तत्वों से भरपूर आम दिन में दो या तीन आम खाना ठीक होता है. एक मध्यम आकार के आम में लगभग 135 कैलरी होती है. अगर आप दिन में 5 बार कुछ ना कुछ खाते हैं, तो कम से कम एक समय का भोजन हटाकर उसकी जगह पर दो या तीन आम खा सकते हैं. ब्रेकफास्ट की जगह पर 3 आम खा सकते हैं. आम का अत्यधिक सेवन वजन बढ़ सकता है. 

Health Expertshttps://othershealth.in
Health experts: आजकल की जीवनशैली ऐसी है की लोग विभीन्न तरह की बीमारियों से पीड़ित है और दवा लेते लेते थक चुके है। Othershealth.in के माध्यम से आप अच्छे से अच्छा घरेलू उपचार और चिकित्सा कर सकते है। हम Doctors and Experts की टीम है,जिसमे चिकित्सा विशेषज्ञ के द्वारा यह जानकारी दी गयी है की हम एक अच्छी और स्वस्थ जीवन कैसे जी सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

ज़ालिम लोशन के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – zalim lotion uses, benefits and side effect in Hindi

ज़ालिम लोशन - zalim lotion in Hindi आज हम इस आर्टिकल में ज़ालिम लोशन ( zalim lotion in hindi )...

जापानी एम कैप्सूल के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – japani m capsule uses, benefits and side effect in Hindi

जापानी एम कैप्सूल - japani m capsule in Hindi आज हम इस आर्टिकल में जापानी एम कैप्सूल ( japani...

स्टेमेटिल टैबलेट के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – stemetil md tablet uses, benefits and side effect in Hindi

स्टेमेटिल एमडी टैबलेट - stemetil md tablet in Hindi   हम इस आर्टिकल में स्टेमेटिल एमडी टैबलेट ( stemetil md tablet...

बर्नोल क्रीम के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – burnol cream uses, benefits and side effect in Hindi

बर्नोल क्रीम - burnol cream in Hindi आज हम इस आर्टिकल में बर्नोल क्रीम ( burnol cream in Hindi...

दिव्य मेदोहर वटी के फायदे, नुकसान और सेवन करने की विधि – Divya medohar vati uses, benefits and side effect in Hindi

दिव्य मेदोहर वटी - Divya medohar vati in Hindi दिव्य मेदोहर वटी Divya medohar vati uses in hindi एक...