Ayurveda

कुमारी आसव फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – kumari asav uses, benefits and side effect in Hindi

Contents hide
2 कुमारी आसव क्या है? – kumari asav kya hai?

कुमारी आसव – kumari asav in hindi

आज के इस आर्टिकल ( kumari asav ) में हम आपको कुमारी आसव के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे. जैसा कि आप जानते ही हैं. कि कुमारी आसव  एक आयुर्वैदिक औषधि है. इसका मुख्य उपयोग गर्भाशय समस्याओं से निजात दिलाने के लिए किया जाता है. कुमारी आसव पाचन तंत्र के रोगों मैं भी बहुत लाभकारी है. कुमारी आसव में नीचे विस्तार से जानने की कोशिश करते हैं. 

कुमारी आसव क्या है? – kumari asav kya hai?

कुमारी आसव महिलाओं के लिए किसी वरदान से कम नहीं है. कुमारी आसव एक आयुर्वेदिक औषधि है. जिसका उपयोग महिलाएं मुख्य रूप से करती है. क्यूंकि Kumari asava  महिलाओं के बहुत से रोगों मैं बहुत गुणकारी है. इसलिए कुमारी आसव का सेवन महिलाओं में बहुत लोकप्रिय है. 

Kumari asava  को बहुत सी औषधि से मिलाकर बनाया जाता है. इसके साथ साथ इसमें एलोवेरा को भी मिलाया जाता है. जिससे इसके सेवन से पाचन तंत्र के लिए बहुत लाभकारी साबित होता है. कुमारी आसव के सेवन से ना सिर्फ पाचन तंत्र मजबूत होता है. बल्कि यकृत में एंजाइम का स्राव भी ठीक होता है. 

इतना ही नहीं है Kumari asava यकृत की अन्य समस्याओं मैं भी बहुत लाभकारी है जैसे – स्पलिलिं का बड़ जाना, पीलिया, खून की कमी आदि में कुमारी आसव सेवन किया जाता है. और कुमारी आसव के सेवन से फायदा भी होता है. 

कुमारी आसव  का सेवन लगातार 3 महीने तक करना चाहिए. यह यकृत या पाचन शक्ति में ही नहीं, और भी बहुत से रोगों में लाभप्रद है. जैसे – गर्भाशय से संबंधित रोग में, बांझपन की समस्या में, पीरियड्स का अनियमित होना आदि में कुमारी आसव बहुत गुणकारी है. 

इन्हे भी पड़े : स्टे ऑन तेल के इस्तेमाल करने का तरीका, फायदे और नुकसान – stay on oil uses, benefits and side effect in Hindi

कुमारी आसव के घटक – kumari asav ingredients in hindi

कुमारी आसव में बहुत से घटक का इस्तेमाल किया जाता है. 

  • 1. कुमार
  • 2. हरितकी
  • 3. धातकी 
  • 4. मधु
  • 5. गुड़
  • 6. कंकोल
  • 7. जतिफल
  • 8. लवंग
  • 9. जतिपत्र
  • 10. जटामांसी
  • 11. चाव्य
  • 12. चित्रक
  • 13. पुष्करमूल
  • 14. तांब भस्म
  • 15. लौह भस्म
  • 16. एलोवेरा

कुमारी आसव के फायदे – kumari asav ke fayde

कुमारी आसव के फायदे बहुत है. उन सभी फायदों का वर्णन हम नीचे की आर्टिकल मैं आपको विस्तार से बताने की कोशिश करेंगे. आपको इन सभी लाइनों को ध्यान से पड़ना है. ताकि आपको आसानी से समझ में आ सके. 

कुमारी आसव के फायदे कब्ज में – kumari asav ke fayde kabj main

कुमारी आसव कब्ज के लिए बहुत फायदेमंद है. इसलिए कब्ज वाले व्यक्ति को कुमारी आसव का सेवन जरूर करना चाहिए. लेकिन कब्ज वाले व्यक्ति को इसका सेवन डॉक्टर से सलाह लेकर ही करना चाहिए. 

कुमारी आसव के फायदे रक्त शोधन में – kumari asav ke fayde

कुमारी आसव में एलोवेरा का भी मिश्रण होता है. एलोवेरा होने से कुमारी आसव में एंटीऑक्सीडेट की मात्रा भी होती है. इसी वजह से कुमारी आसव रक्तशोधक के रूप में कार्य करती है. कुमारी आसव शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को दूर कर शरीर को स्वस्थ रखने में बहुत मदद करती है. 

इन्हे भी पड़े : सांडे के तेल के फायदे, नुकसान और लगाने का सही तरीका – sanda oil benefits and side effect in Hindi

कुमारी आसव के फायदे महिलाओं के प्रजनन क्षमता में – kumari asav benefits in hindi

कुमारी आसव को खास कर महिलाओं के लिए बनाया गया है. इसके फायदे महिलाओं मैं बहुत है. महिलाओं के गर्भाशय के लिए कुमारी आसव एक उत्तम टॉनिक है. यह उन महिलाओं के लिए भी बहुत उत्तम टॉनिक है, जो महिला बांझपन की समस्या से परेशान है. कुमारी आसव का सेवन पीरियड्स के रोग में भी किया जाता है.

कुमारी आसव के फायदे लिवर में – kumari asav benefits in hindi

कुमारी आसव को लिवर के लिए भी बहुत लाभकारी है. क्यूंकि इसमें मौजूद सभी घटक द्रव्य पेट की समस्याओं से निजात दिलाने के लिए कारगर है. यह यकृत के लिए बहुत लाभकारी है. यह आपके पाचन शक्ति को मजबूत कर भूख को बढ़ाने में मदद करता है. कुमारी आसव इम्यूनिटी पॉवर बढ़ाने में भी काफी मदद करता है. 

कुमारी आसव के नुकसान – kumari asav side effect in Hindi

कुमारी आसव के कोई खास साइड इफेक्ट तो नहीं है. लेकिन फिर भी उसका सेवन करते वक़्त कुछ सावधानी बरतनी चाहिए. ऐशा ना कर पाने से आपको इसके कुछ दुष्प्रभाव भी देखने को मिलते हैं. इसके किया किया दुष्प्रभाव हो सकते हैं. इसका वर्णन हम नीचे कर रहे हैं. 

1. कुमारी आसव हमेशा डॉक्टर की देख रख में ही लेना चाहिए. 

2. कुमारी आसव का सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए. कुमारी आसव का अधिक मात्रा में सेवन करने से साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं. 

3. अगर कुमारी आसव में मौजूद किसी घटक द्रव्य से एलर्जी है, तो कुमारी आसव का सेवन करने से बचना चाहिए. 

4. गर्भवती महिला को कुमारी आसव का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. क्यूंकि कुमारी आसव का सेवन गर्भवती महिला के लिए घातक भी जो सकता है. 

5. कुमारी आसव का सेवन हमेशा भोजन करने के बाद करना चाहिए. खाली पेट कुमारी आसव नंबर 1 का सेवन करने से पर में जलन भी हो सकता है.

6. कुमारी आसव का अधिक सेवन से पेशाब मैं जलन की समस्या भी हो सकती है. 

इन्हे भी पड़े : जापानी तेल लगाने के फायदे, नुकसान और लगाने की विधि – japani oil benefits and side effect in Hindi

कुमारी आसव की सेवन विधि – kumari asav uses in hindi

कुमारी आसव को आप एक दिन मैं दो बार के सकते हैं. आपको इसका सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए. आप एक बात मै 12 से 24ml तक इसका सेवन कर सकते हैं. इससे अधिक सेवन करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करें लेना चाहिए. आप इसका सेवन हमेशा खाना खाने के बाद हल्के गुनगुने पानी के साथ करे. 

कुमारी आसव के चिकित्सीय उपयोग – kumari asav uses in hindi

कुमारी आसव के बहुत से चिकित्सीय उपयोग है. उन सभी के बारे में हम आपको बताने की कोशिश करेंगे. जिससे आपको किसी भी तरह की परेशानी मैं आप Kumari asava का सेवन कर सके. और आपको इससे फायदा हो. 

  • 1. सूजन 
  • 2. वात रोग
  • 3. लिवर में विकार 
  • 4. महिला बांझपन
  • 5. बवासीर 
  • 6. पेट फूलना
  • 7. पीलिया 
  • 8. पिर्यड्स ना आना
  • 9. पेट में पथरी होना
  • 10. अपस्मार 
  • 11. अस्थमा 
  • 12. एनीमिया 
  • 13. कब्ज 
  • 14. कृमि रोग 
  • 15. छाय रोग
  • 16. गर्भाशय के दोष
  • 17. गुल्म
  • 18. खांसी 
  • 19. जुकाम 
  • 20. गुल्म पेट में लमप

कुमारी आसव का मूल्य – kumari asav price in India

Kumari asava लड़कियों के लिए बहुत फायदेमंद है. इसलिए इसका सेवन महिलाओं को जरूर करना चाहिए. सेवन करने के लिए आप इसे दवाई दुकान से खरीद सकते हैं. और अगर कुमारी आसव आपको दवाई दुकान या हकीम की दुकान पर ना मिले, तो आप इसे ऑनलाइन किसी भी वेबसाइट से खरीद सकते हैं. 

आप इसे अमेजन, फ्लिपकार्ट या 1mg.com से खरीद सकते हैं. कुमारी आसव को खरीदने के लिए आपको अधिक पैसे खर्च करने की भी जरूरत नहीं है. कुमारी आसव के एक बोतल की कीमत ₹140 रुपए है. जिसमे 450 ml कुमारी आसव रहता है. 

इन्हे भी पड़े : हैमर ऑफ थोर के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – hammer of thor uses, benefits and side effect in Hindi

कुमारी आसव के बारे में डॉक्टर से पूछे गए सवालों के जवाब

Q1. कुमारी आसव का सेवन कितने दिनों तक करना चाहिए?

Ans : कंपनी के अनुसार इसका सेवन 3 महीनों तक करना चाहिए. लेकिन आपको इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिए. और उनसे यह जानकारी भी के लेना चाहिए. कि कुमारी आसव का सेवन कितने दिनों तक करना है.

Q2. कुमारी आसव का सेवन कब करना चाहिए?

Ans : आपको कुमारी आसव का सेवन हमेशा खाना खाने के बाद ही करना चाहिए. Kumari asava का सेवन खाना खाने से पहले नहीं करना चाहिए. 

Q3. कुमारी आसव का सेवन किसके साथ करना चाहिए? 

Ans : Kumari asava का सेवन करने के बाद आपको हल्का गुनगुना पानी पी लेना चाहिए. इससे कुमारी आसव की तासीर बड़ जाती है. 

Q4. क्या कुमारी आसव का सेवन करने के बाद ड्राइविंग किया जा सकता है? 

Ans : आप Kumari asava का सेवन करने के बाद बिना किसी परेशानी के ड्राइविंग कर सकते हैं. कुमारी आसव नंबर 1 के सेवन से आपको गाड़ी चलाने में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी. 

इन्हे भी पड़े : लिंग पर सरसो तेल लगाने के फायदे, नुकसान और लगाने का सही तरीका – ling par sarso tel lagane ke fayde aur nukshan

Q5. क्या कुमारी आसव के सेवन से मुझे इसकी लत लग सकती है?

Ans : आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता देना चाहते हैं कि यह पूरी तरह से आयुर्वेदिक सिरप है. जिसके कारण Kumari asava के लत लगाने की संभावना बहुत कम है. कुमारी आसव का सेवन आप बिना किसी परेशानी के कर सकते हैं. 

Q6. क्या कुमारी आसव का सेवन शराब के साथ किया का सकता है? 

Ans : कुमारी आसव ( Kumari asava ) का सेवन शराब के साथ नहीं किया जाना चाहिए. ऐशा करने से कुमारी आसव आपके शरीर पर कुछ साइड इफेक्ट भी दिखा सकते है. जिसके परिणाम दुखद हो सकते हैं. 

नोट : कुमारी आसव ( kumari asav ) के बारे में कोई और प्रश्न है, तो हमे कॉमेंट बॉक्स में लिख कर जरूर बताएं. हम आपके सभी सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे

इन्हे भी पड़े : लिंग पर देसी घी लगाने के फायदे और नुकसान – ling par desi ghee lagane ke fayde aur nukshan

Readmore: kumari asava uses, benefits and side effect in Hindi

Related Articles

Back to top button