आज हम इस आर्टिकल में कांचनार गुग्गुल के बारे में जानने की कोशिश करेंगे. कांचनार गुग्गुल के फायदे, नुकसान और इसके उपयोग करने का तरीके के बारे में. इन सभी बातों के बारे में आज हम विस्तार से बताने की कोशिश करेंगे. kanchnar guggul का सेवन स्त्री पुरष किसी भी उम्र में कर सकते हैं. kanchnar guggul के सेवन से शरीर में नई ऊर्जा का संचार होता है. जिससे आपको पहले से बेहतर महसूस होता है.

यह भी पढ़े: ए टू ज़ेड टैबलेट के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव 

कांचनार गुग्गुल क्या है? – what is kanchnar guggul in hindi

कांचनार गुग्गुल ( kanchnar guggul ) एक आयुर्वेदिक औषधि है. जो टैबलेट के रूप में उपलब्ध है. कांचनार गुग्गुल का उपयोग डॉक्टर बहुत से रोगों मैं करने की सलाह देते हैं. इस वजह से कांचनार गुग्गुल बहुचर्चित दवाई है. इसके फायदे बहुत है. ऐशा नहीं है. कि इसके कोई साइड इफेक्ट नहीं है. kanchnar guggul का निर्माण बहुत सी कंपनियां करती है. 

कांचनार गुग्गुल के घटक – kanchnar guggul ingredients in hindi

kanchnar guggul का निर्माण बहुत से घटक द्रव्य को मिलाकर किया जाता है. उन घटक द्रव्य के नाम नीचे दिए गए हैं. ताकि आप भी कांचनार गुग्गुल का निर्माण घर पर कर सके. 

  • 1. कांचनार 
  • 2. गुग्गुल
  • 3. मधुका 
  • 4. वरुण 
  • 5. इलायची
  • 6. तेजपात
  • 7. तिरकटू
  • 8. त्रिफला

कांचनार गुग्गुल के फायदे – kanchnar guggul benefits in hindi

kanchnar guggul का सेवन बहुत सी बीमारियों में काफी फायदेमंद है. कांचनार गुग्गुल के फायदे बहुत है. कांचनार गुग्गुल के सेवन से थायरॉयड ग्रंथि से संबंधित रोगों से छुटकारा दिलाता है. 

kanchnar guggul के सेवन योनि में रक्तस्राव में यह बहुत फायदेमंद होता है. जिसे गर्भाशय पोलियो भी कहते हैं. इसके और भी बहुत फायदे है, जिसका वर्णन हम नीचे आसान शब्दों में करने की कोशिश करेंगे. ताकि आपको आसानी से समझ में आ सके. 

कांचनार गुग्गुल के फायदे नासूर एवम अल्सर नाशक – kanchnar guggul benefits in hindi

kanchnar guggul नासूर एवम अल्सर में बहुत ही लाभदायक होती है. इसमें यह किसी वरदान से कम नहीं है. अगर आप कांचनार गुग्गुल को इस रोग मै अरोगुवर्धनी के साथ मिलकर इसका सेवन करवाते हैं, तो इस बीमारी से छुटकारा मिलने में अधिक समय नहीं लगता है. 

इसके अलावा और भी बहुत सी चीज़ों को मिलाकर इसका सेवन किया जा सकता है. जैस – केशवर कुष्ठ रछस रस, तिरलोक के चिंतामणि रस, तंभ भस्म, हीरक भस्म आदि के साथ इसका सेवन किया जा सकता है.

कांचनार गुग्गुल के फायदे थायरॉयड ग्रंथि के स्राव के नियंत्रण में – kanchnar guggul benefits in hindi

kanchnar guggul का सेवन थायरॉयड ग्रंथि से जुड़ी समस्याओं मैं भी होता है. बहुत बार होता ये है, कि हर्मोंस कम या अधिक स्राव होने लगता है, ऐसी स्तिथि में अगर आप कांचनार गुग्गुल का सेवन करते है, तो यह बहुत लाभदायक होता है. 

थायरॉयड ग्रंथि में हरमोंस कम या अधिक स्राव को नियंत्रण में करने के लिए कांचनार गुग्गुल के साथ और भी बहुत सारी औषधि का सेवन किया जाता है. जो इसके फायदे को कई गुणा तक बड़ा देते हैं. जिससे इसका सेवन करना अधिक फायदेमंद होता है. 

कांचनार गुग्गुल के फायदे गलगंड में – kanchnar guggul benefits in hindi

पहाड़ी इलाके में रहने वाले लोगों को इसका सेवन जरूर करना चाहिए. क्यूंकि पहाड़ी इलाके में रहने वाले लोगों में एक समस्या बहुत ज्यादा देखने को मिलती है और वो है. गले की समस्या या आप इसे गले का फूलने की बीमारी भी के सकते हैं. इस समस्या का मुख्य कारण है आयोडीन को कमी. ऐसे में कांचनार गुग्गुल का सेवन करना बहुत ही लाभदायक होता है. कांचनार गुग्गुल का सेवन आपके शरीर में आयोडीन की कमी को पूरा करता है. 

कांचनार गुग्गुल के फायदे गर्भाशय और स्तनों की गांठ में  – kanchnar guggul benefits in hindi

kanchnar guggul का सेवन गर्भाशय और स्तनों की गांठ में बहुत लाभकारी है, लेकिन इसका सेवन हमेशा अच्छे डॉक्टर की देखरेख में करना चाहिए. नहीं तो इसके परिणाम गंभीर भी सकते हैं. अगर आप अच्छे डॉक्टर की देखरेख में करते हैं, तो आपको इसके समस्या से बहुत छुटकारा मिल जाएगा. और अगर आप ऐशा नहीं करते है, यह आपके लिए घटक भी हो सकता है. 

कांचनार गुग्गुल के नुकसान – kanchnar guggul side effect in Hindi

kanchnar guggul के कोई खास दुष्प्रभाव सामने तो नहीं आया है. लेकिन कभी कभी इसके कुछ दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं. कांचनार गुग्गुल के किया किया साइड इफेक्ट हो सकते है. इसका उदाहरण नीचे दिया गया है. आप इसके दुष्प्रभाव के बारे में विस्तार से जान सकते हैं.

  • 1. पेचिश 
  • 2. मतली 
  • 3. सोने में कठिनाई
  • 4. दमा 
  • 5. सोने में कठिनाई
  • 6. कांचनार गुग्गुल का सेवन डॉक्टक की देखरेख में लेना चाहिए. 
  • 7. kanchnar guggul में मौजूद किसी घटक से अगर आपको एलर्जी है, तो इसका करने से बचना चाहिए. 

कांचनार गुग्गुल की सेवन विधि – kanchnar guggul uses in hindi

kanchnar guggul का सेवन आप दिन में दो बार कर सकते हैं. इसका सेवन इससे अधिक भी किया जा सकता है. लेकिन इससे अधिक सेवन करने करने के लिए आपको डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए. कांचनार गुग्गुल का सेवन हमेशा खाना खाने के बाद करना चाहिए. 

कांचनार गुग्गुल के चिकित्सीय उपयोग – kanchnar guggul uses in hindi

कांचनार गुग्गुल का उपयोग बहुत से रोगों में किया जाता है. क्यूंकि यह बहुत से रोगों मैं लाभकारी है. डॉक्टर भी बहुत से रोगों मैं इसका सेवन करने की सलाह देते हैं. कांचनार गुग्गुल का उपयोग कौन कोन से बीमारियों में किया जाता है. इसका वर्णन हम नीचे कर रहे हैं. 

  • 1. कैंसर रोग में. 
  • 2. गठिया के रोग में. 
  • 3. सूजन में. 
  • 4. मूत्र संबंधी विकारों में. 
  • 5. मोटापा में. 
  • 6. बवासीर में. 
  • 7. उच्च रक्तचाप
  • 8. यौन इच्छा 
  • 9. कब्ज में. 
  • 10. फोड़ा होने पर.
  • 11. दर्द में.

कांचनार गुग्गुल का मूल्य – kanchnar guggul price 

kanchnar guggul के मूल्य की बात करे, तो यह काफी सस्ता और काफी अच्छा भी है. कांचनार गुग्गुल का निर्माण बहुत सी कंपनियां करती है, और सभी के दाम भी अलग है. यह ₹100 से ₹200 तक का आता है. इसे आप किसी भी दवाई दुकान या ऑनलाइन स्टोर से खरीद सकते हैं. यह अमेजन पर बिक्री के लिए उपलब्ध है. कांचनार गुग्गुल निर्माण पतंजलि, बैद्यनाथ और डाबर करती है. आप कांचनार गुग्गुल को पतंजलि के ऑनलाइन स्टोर से भी खरीद सकते हैं.

यह भी पढ़े: वोवरन टैबलेट के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव

डॉक्टर से कांचनार गुग्गुल के बारे में पूछे गए सवाल और उनके जवाब 

Q1. कांचनार गुग्गुल का सेवन कितने दिनों तक करना चाहिए?

Ans : कांचनार गुग्गुल का सेवन 3 महीनों तक किया जा सकता है. 3 महीने से अधिक इसका सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से सलाह ले लेना चाहिए.

Q2. कांचनार गुग्गुल का सेवन कब करना चाहिए?

Ans : कांचनार गुग्गुल का सेवन हमेशा खाना खाने के बाद करना चाहिए. खाना खाने से पहले इसका सेवन करने से पेट में जलन की समस्या उत्पन्न हो सकती है.

Q3. क्या कांचनार गुग्गुल का सेवन करने के बाद ड्राइविंग किया जा सकता है? 

Ans : हां. आप कांचनार गुग्गुल का सेवन कर आसानी से किसी भी प्रकार की गाड़ी चला सकते है. क्यूंकि कांचनार गुग्गुल का सेवन पूरी तरह से सुरक्षित है.

Q4. क्या कांचनार गुग्गुल के सेवन से मुझे इसकी लत लग सकती है?

Ans : नहीं. कांचनार गुग्गुल का सेवन करने से आपको इसकी लत लगाने की संभावना बहुत कम है, क्यूंकि इसमें किसी भी प्रकार का केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया जाता है. कांचनार गुग्गुल पूरी तरह आयुर्वेदिक औषधि है.

Q5. क्या कांचनार गुग्गुल का सेवन शराब के साथ किया का सकता है? 

Ans : नहीं. कांचनार गुग्गुल का सेवन शराब के साथ नहीं किया जा सकता है. शराब के साथ कांचनार गुग्गुल का सेवन करने से शरीर में कई प्रकार की बियारियां होने का खतरा बढ़ जाता है. 

Q6. मुझे कांचनार गुग्गुल का सेवन एक दिन में कितनी बार करना चाहिए?

Ans : आम तौर पर कांचनार गुग्गुल का सेवन एक दिन में 2 बार करना चाहिए. कांचनार गुग्गुल का सेवन बढ़ाया भी का सकता है. लेकिन उससे पहले डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए. 

Q7. कांचनार गुग्गुल का सेवन करते वक़्त मुझे किया सावधानी बरतनी चाहिए? 

Ans : kanchnar guggul का सेवन करते वक़्त कुछ सावधानी बरतनी बहुत जरूरी है. सावधानी ना बरतने पर यह जानलेवा भी साबित हो सकता है. कांचनार गुग्गुल का सेवन करते वक़्त किया सावधानी बरतनी चाहिए, इसका वर्णन नीचे किया गया है. 

  • 1. आइस क्रीम का सेवन नहीं करना चाहिए. 
  • 2. तम्बाकू का सेवन नहीं करना चाहिए. 
  • 3. मांस का सेवन से बचना चाहिए. 
  • 4. शराब का सेवन से बचना चाहिए. 
  • 5. छाती और फेफड़े रोग वाले व्यक्ति को कांचनार गुग्गुल का सेवन करने से पहले डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिए. 

और पढ़े:-

3 CommentsClose Comments

3 Comments

  • Trackback: जापानी एम कैप्सूल के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव
  • Trackback: एंटरोक्विनोल टैबलेट के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव
  • Trackback: मैनफोर्स टैबलेट के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव

Leave a comment

Newsletter Subscribe

Get the Latest Posts & Articles in Your Email

We Promise Not to Send Spam:)