Home remedy

काली जीरी के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – Kali jeeri uses, benefits and side effect in Hindi

काली जीरी – Kali jiri in Hindi

आज हम इस आर्टिकल में काली जीरी ( kali jiri in hindi ) के बारे में जानने की कोशिश करेंगे. वैसे आप सभी काला जीरा ( मंग्रेला ) के बारे में तो जानते ही होंगे. यह भी उसी पर्जती का पौधा होता है. आज हम काली जिरी के फायदे, नुकसान और इससे जुड़े कुछ महत्वपूर्ण जानकारियों पर विस्तार से जानने की कोशिश करेंगे. 

काली जीरी क्या है – what is Kali jiri in Hindi

काली जीरी ( kali jiri uses in hindi ) एक औषधीय पौधा होता है. जिसके बीज को हम काली जीरी कहते हैं. इस पोधे के बीज का हम सेवन करते हैं. यह खाने में हल्का तीता होता है. लेकिन यह बहुत गुणकारी है. और यह आकार में काला जीरा से भी छोटा होता है. इसके तासीर की बात करे, तो इसका तासीर बहुत गर्म होता है. 

इसका पौधा भी बहुत लाभकारी होता हैं. यह बिल्कुल सामान्य जीरे की तरह ही होता है. बस दिखने में हल्का मोटा होता है. इसका तासीर काला जीरा और जीरा से अलग होता है. इसके सेवन आप अगर हर दिन करते हैं, तो आपको बहुत से लाभ होते हैं. यह आपके दिमाग को ज्यादा तेजी से काम करने के लिए उत्तेजित करते हैं. इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श कर लें. 

काली जीरी को किन किन नामों से जाना जाता है – Kali jiri names in Hindi

काली जीरी ( kali jiri uses in hindi ) को लोग बहुत से नामो से जानते हैं. काली जीरी अलग अलग राज्यो में अलग अलग नामों से जाना जाता है. इसका जो सबसे चर्चित नाम है. वो है काली जीरी. इसके सभी नाम जानना आपके लिए बेहद जरूरी है. 

1. इंग्लिश में इसे black cumin seed के नाम से जाना जाता है. यह नाम बाहर के देशों में बहुत पर्चिलित है. 

2. काली जीरी को बहुत से राज्यो में इसके संस्कृत नाम से भी जाना जाता है. इसका संस्कृति नाम है कटुजीरक और अरण्यजीरक. 

3. इसे मराठी लोग कडूजीरें के नाम से जानते हैं. और मराठी में यह नाम बहुत पर्चिलिट है. 

4. काली जीरी को गुजराती लोग भी इस्तेमाल करते है. और आपको यह जानकर खुशी होगी कि गुजराती लोग इसे काली जीरी के नाम से ही जानते हैं. 

5. लैटिन भाषा में काली जीरी को वर्नोनिया एन्थेलर्मिटिका (Vernonia anthelmintika) के नाम से जाना जाता है. 

काली जीरी के लाभ/फायदे – Kali jiri benefits in Hindi

काली जीरी ( kali jiri benefits in hindi ) के फायदे बहुत है. सभी फायदों का वर्णन हम नीचे विस्तार में करेंगे.

कोलेस्ट्रॉल : अगर आप काली जीरी ( kali jiri ) का सेवन नियमित रूप से करते हैं, तो यह आपके रक्त संचार को तेज कर आपके कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है. जिससे हृदय रोग का खतरा बहुत कम हो जाता है. 

डायबिटीज : जैसा कि आप सभी जानते है. कि इसका तासीर गर्म होता है. और यह बहुत तीखा और कड़वा भी होता है. जिसके वजह इसका लगातार सेवन से सूगर कंट्रोल में रहता है. इसके अलावा इसमें मौजूद पोटेशियम और ग्लाइसेमिक सूचकांक सूगर को निरन्तर करने में बहुत फायदेमंद है. 

वजन कम करने में : आज बहुत से लोग मोटापे से परेशान हैं. उन सभी लोगों को हम काली जीरी का नियमित सेवन करने की सलाह देते हैं. अगर कोई मिटा व्यक्ति इसका लगातार 3 महीने तक सेवन करता है, तो उसका वजन बहुत घट जाता है. और वह पहले से अधिक स्वस्थ भी हो जाता है. 

सिर या दांत दर्द में : अगर आप काली जीरी के तेल को सिर पर लगाते है, तो इससे आपके सिर की दर्द ख़तम हो जाती है. जिससे आपको राहत मिलती है. ठीक उसी प्रकार अगर आपके दांत में दर्द है, तो आपको इसके तेल को हल्का गर्म पानी में मिलाकर कुल्ला करना चाहिए. इससे आपको दांत के दर्द में बहुत लाभ होगा. 

सर्दी में : काली जीरी का सेवन नियति करने से यह सर्दी और जुकाम में भी राहत देता है. इसलिए इसका सेवन नियमित रूप से करना चाहिए. 

काली जीरी के नुकसान – Kali jiri side effect in Hindi

कोई भी औषधि हो या बीज हो, उनके कुछ फायदे होते हैं, तो कुछ नुकसान भी. ठीक उसी प्रकार काली जीरी ( Kali jiri side effect in Hindi ) के कुछ फायदे है, तो कुछ नुकसान भी है. जिसके बारे में हम विस्तार से जानने की कोशिश करेंगे. 

इसके सेवन से होने वाले नुकसान कि बात करे, तो इसे सेवन से मतली आना, उल्टी होना, चक्कर आना, पेट में ऐठन होने जैसे समस्या होती है. इसका सेवन नियमित रूप से सही मात्रा में करना चाहिए. अधिक सेवन करने से भी कुछ साइड इफेक्ट नजर आते हैं. इसलिए इसका सेवन करते वक़्त इस बात का ध्यान रखना चाहिए. की डॉक्टर ने कितना सेवन करने को कहा है. 

बहुत से लोगो को इससे एलर्जी भी होती है. इसलिए उन लोगो को इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए. तभी इसका सेवन करना चाहिए. 

काली जीरी का उपयोग किन बीमारियों में किया जाता है – Kali jiri medically uses in Hindi

काली जीरी ( kali jiri ) को बहुत सी बीमारियों मैं इसका सेवन किया जाता है. जैसे – 

1. सूगर में. 

2. चर्म रोग में. 

3. बालों की वृद्धि में. 

4. कोलेस्ट्रॉल कम करने में. 

5. पाचन शक्ति मजबूत करने में. 

6. खून साफ करने में. 

7. पेट के कीड़े की सफाई या नष्ट करने में. 

8. सफेद दाग में. 

9. वजन कम करने में. 

10. गठिया रोग मै. 

11. हड्डियों को मजबूत बनाने में. 

12. आंखों की रोशनी को बढ़ाने में. 

13. खासी में. 

काली जीरी के बाहरी उपयोग – Kali jiri external uses in Hindi

काली जीरी ( kali jiri uses in hindi ) को बहुत जगह बाहरी उपयोग में भी लाया जाता है. काली जीरी का पेस्ट बनाकर इसे मस्से, फोड़े, मुहांसे, तवाचा की सूजन और जुओं को मारने के लिए इस पेस्ट का उपयोग किया जाता है. इसका पेस्ट लगाने से शरीर को राहत मिलती है. और बहुत सी बीमारियों से बचा भी का सकता है. 

काली जीरी की सेवन विधि – Kali jiri uses in Hindi

काली जीरी ( kali jiri uses in hindi ) का सेवन कोई भी या किसी भी उम्र के लोग कर सकते हैं. यह सभी के लिए बहुत गुणकारी है. केवल गर्भवती महिलाओं को इसके सेवन से बचना चाहिए. इसका सेवन करने से पहले आपको इसका चूर्ण बना लेना चाहिए. चूर्ण बनाने के बाद आप इसका सेवन हल्के गर्म पानी के साथ कर सकते हैं. 

अगर आप इसका सेवन अजवाइन और मेथी के साथ करते हैं, तो यह और भी फायदेमंद है. आप अजवायन, मेथी और काली जीरी को मिलाकर इसका चूर्ण बना लें. उसके बाद आप इसके हल्के गर्म पानी के साथ दिन में दो बार सेवन करे. आपको इसका सेवन खाना खाने के बाद करना चाहिए. इससे अधिक लाभ मिलता है. 

काली जीरी का मूल्य – Kali jiri price in Hindi

काली जीरी ( kali jiri price in hindi ) थोड़ा मंहगी होती हैं. क्योंकि इसका उपज बहुत कम है. और मार्किट में इसकी मांग बहुत अधिक है. यह आपको किसी भी दवाई दुकान पर नहीं मिलेगा. इसके या तो आप ऑनलाइन वेबसाइट से खरीद सकते हैं. या किसी हकीमी दुकान पे जाके आप इसे खरीद सकते है. इसका 100ग्राम का एक पैकेट आता है. जिसका मूल्य 150 रुपए होता है. हकीम दुकान पर आपको यह लूज भी मिल जाएगा. आप जितना चाहे, उतना खरीद सकते हैं. 

Readmore: Kali jeeri uses, benefits and side effect in Hindi

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button