Sexual health

जापानी तेल लगाने के फायदे, नुकसान और लगाने की विधि – japani oil benefits and side effect in Hindi

जापानी तेल ( japani oil in hindi ) एक आयुर्वेदिक तेल है. इसका उपयोग मुख्यतः नपुंसकता दूर करने और लिंग में आए ढीलेपन को दूर करने में किया जाता है. यह केवल पुरुषों के उपयोग के लिए है. इसका उपयोग कर पुरुष अपने जीवन साथी को पूर्ण संतुष्ट देने के लिए लिंग की यौन शक्ति को बढ़ा सकते हैं.

जापानी तेल ( japani oil uses in hindi ) का उपयोग ओ उन पुरुषों के लिए काफी कारगर साबित होता है. जिनकी सेक्स लाइफ काफी खराब होती है. जापानी तेल का उपयोग करने वाले व्यक्ति की सेक्स लाइफ कभी अच्छी होती है. क्यूंकि यह लिंग में आयि बहुत सारी विकारों को दूर करता है और आपकी सेक्स लाइफ काफी अच्छा कर देता है. 

जापानी तेल ( japani oil uses in hindi ) का मालिश करने से शीघ्रपतन, सेक्स ना करने की इच्छा, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन आदि परेशानियां दूर होती है. पुरुष के खराब जीवनशैली और खराब खान-पान से सनका सेक्स जीवन काफी प्रभावित होता है. जापानी तेल उसमें एक औषधि के रूप में इस्तेमाल होता है.

Contents hide

जापानी तेल में क्या क्या पाया जाता है – japani oil ingredients in Hindi

जापानी ऑयल ( japani tel se ling par malish karne ke fayde ) में बहुत सारी जड़ी बूटियों का उपयोग किया जाता है. जो लिंग के नसों को ताकत प्रदान करता है जिसका उदाहरण नीचे दिया गया है.

अकरकरा की जड़.

तिल का तेल.

जैतून का तेल. 

ज्योतिष मति.

लॉन्ग के फूल की कली.

मालकांगनी.

हर्टल मिनरल. 

मल्ला मिनरल.

केसर.

लॉन्ग.

इन सभी सामग्री को मिक्स कर जापानी तेल बनाई जाती है, जो मर्दों कि सेक्सुअल लाइफ के लिए किसी वरदान से कम नहीं है. 

जापानी तेल के फायदे या लाभ – japani oil benefits in Hindi

जापानी तेल ( japani oil benefits in hindi ) के बहुत सारे फायदे हैं इन सभी का वर्णन नीचे किया गया है. 

लिंग का लंबा होना : जापानी तेल ( japani oil uses in hindi ) का उपयोग करने से लिंग मजबूत बड़ा और स्वस्थ बनता है. तेल में मौजूद आयुर्वेदिक तत्व पुरुष के यौन अंग को मजबूत बनाने में काफी कारगर साबित होते हैं.

शीघ्रपतन को रोकता है : यह शीघ्रपतन को रोकने में मदद करता है. यह उन नसों को आराम देता है, जो शीघ्र पतन के कारण तनाव में होते हैं.

सेक्स करने की इच्छा को जगाता है : जापानी तेल ( japani oil ) से लिंग पर मालिश करने से पुरुष के प्रजनन अंग में संवेदनशीलता की मात्रा बढ़ जाती है. जिससे सेक्स करने की इच्छा जागृत होती है. जापानी तेल का सही उपयोग करें. आप अपनी सेक्स करने की इच्छा को बढ़ा सकते हैं.

नपुंसकता को दूर करता है : जापानी तेल ( japani oil uses in hindi ) नपुंसकता को दूर करने में काफी मददगार है. और यह पुरुष के ढीले पड़े अंगों को दोबारा खड़े करने में काफी कारगर है. यह सेक्स करने वक्त आई थकावत को भी दूर करने में सहायक है.

जापानी तेल के नुकसान – japani oil side effect in Hindi

जापानी तेल ( japani oil side effect in Hindi ) एक आयुर्वेदिक तेल है. और लिंग पर आवेदन के लिए इसका प्रयोग होता है इसके कोई नुकसान तो नहीं है. लेकिन फिर भी आइए देखते हैं इसके छोटे दुष्प्रभाव.

अधिक समय तक इसका प्रयोग ना करें – अस्थाई रूप से इसका उपयोग नहीं किया जाना चाहिए. इस तेल के परिणाम कुछ ही महीनों में दिखाई देते हैं. इसलिए इसका उपयोग करने से आपके शरीर में बहुत सारी प्रॉब्लम आ सकती है. कुछ महीनों के प्रयोग के बाद इसका अधिक उपयोग करने से काफी नुकसान होता है.

इसके और भी बहुत से नुकसान है जिसका उदाहरण नीचे दिया गया है. 

लिंग में खुजली होना. 

बहुत अधिक नाइट फ़ॉल होना. 

सेक्स का बहुत अधिक लत लगना. 

बहुत अधिक तेल का उपयोग करने के बाद लिंग को उत्तेजित होने में वक्त लगता है. 

जापानी तेल लगाने की विधि या तरीका – how to use japani oil in Hindi

जापानी तेल ( japani oil uses in hindi ) का प्रयोग दिन में कम से कम 2 बार करना चाहिए. एक सुबह के समय और एक बिस्तर पर जाने से पहले यानी अपने साथी के साथ मिलन करने से 1 घंटे पहले. 

जापानी तेल japani oil का प्रयोग हर दिन 10 से 15 बंद से अधिक नहीं करना चाहिए. जापानी तेल की 10 से 15 बूंद हथेली पर लेकर आपने नाजुक अंग पर मालिश करें. इसको लगाने के कम से कम 4 घंटे बाद इसे धोना चाहिए. ऐसा करने से आपके लिंग के नशो में मजबूती आएगी और आपको सेक्स करने में काफी आनंद प्राप्त होगा. 

जापानी तेल का price, japani oil price in India

भारत में बहुत सी कंपनियां जापानी तेल ( japani oil price in India ) का उत्पादन करती है. और सभी के दाम अलग-अलग है, जो ₹150 से शुरू होकर ₹500 तक है. यह सभी ऑनलाइन वेबसाइट पर बिक्री के लिए उपलब्ध है जैसे फ्लिपकार्ट अमेजॉन स्नैपडील आदि.

डॉक्टर से अक्सर पूछे जाने वाले सवाल 

Q1. क्या जापानी तेल से नपुंसकता दूर होती है. 

इस सवाल का जवाब इसपर निरभर करता है कि आपकी नपुंसकता का मुख्य कारण किया है, यदि आपकी नपुंसकता का मुख्य कारण नसो में अयी कमजोरी है या ढीलापन है, तो यह आपकी नपुंसकता दूर करने में काफी मदद कर सकता है, लेकिन यादी आपको नपुंसकता का कोई और कारण है, तो यह काम नहीं करता है.

  • Q2. किया जापानी तेल से लिंग लंबा और मोटा होता है.

इस सवाल का जवाब भी इस बात पर निर्भर करता है, कि किया आपकी लिंग और बढ़ने की गुंजाइश है कि नहीं. क्यूंकि एक नॉर्मल लिंगा का साइज 5.5 इंच से अधिक नहीं होता है. ऐसे लोगो की संख्या बहुत ज्यादा है जो इतने में संतुष्ट नहीं होते हैं. उन्हें लगता है ये बहुत छोटा साइज है, पर ऐशा नहीं है. किसी भी महिला को संतुष्ट करने के लिए इतना बहुत है.

रहा आपके लिंग के बढ़ने की बात तो, आप के लिंग में आयी किसी परेशानी की वजह से लिंग आकार बढ़ नहीं पाया है, तो यह उस विकार को ठीक कर आपके लिंग की साइज को बढ़ाने में अवश्य मदद कर सकता है.

Q3. क्या जापानी तेल लगाने से सेक्स करने की क्षमता बढ़ जाती है.

अगर आप इसका सही से इस्तेमाल करने का तरीका जानते है. तो ये आपकी सेक्सुअल लाइफ में काफी कारगर है, और आप अपने पत्नी को संतुष्ट भी कर पाएंगी, इसको लगाने सेक्स टाइम में काफी इजाफा होता है. 

Q4. क्या जापानी तेल महिलाएं भी प्रयोग कर सकती है.

इसका जवाब नहीं, में है क्योंकि जापानी तेल को विशेषकर लिंग की नाशो में मजबूती प्रदान करने के लिए ही तैयार किया जाता है.

Q5. जापानी तेल से मालिश करने से किया होता है.

जापानी तेल से अगर आप हर दिन 2 बार मालिश करते है, तो आपकी नशों में मजबूती आएगी. और अगर आप के लिंग में ढीलापन या टेढापन आ गया है, तो ये उसमे भी काफी मददगार साबित होता है. 

Q6. क्या जापानी तेल सच में काम करता है कि नहीं. 

इस सवाल का जवाब देना थोड़ा कठिन है, क्योंकि इस सवाल के जवाब पर सभी लोगो की राय अलग अलग है, बहुत से लोगो का कहना है कि ये बहुत कारागार है. और बहुत से लोग का ये कहना है कि यह काम नहीं करता है. आप इसका उपयोग करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से अवश्य प्रमार्श कर लें.

Q7. क्या जापानी तेल का उपयोग मधुमेह रोगी कर सकते हैं.

इस सवाल japani oil uses in hindi का जवाब जानने के लिए आपको डॉक्टर से परामर्श कर लेना चाहिए.

जापानी तेल क्या है – what is japani oil in Hindi

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button