Home Healthy Diet ऐसे फैट को कम कर बनाए फिटनेस - fat diet in Hindi

ऐसे फैट को कम कर बनाए फिटनेस – fat diet in Hindi

फैट डाइट – fat diet in Hindi 

अक्सर फैट कम करने के लिए हम गलत डायट या उपायों को अपना लेते हैं, जिससे हमारा स्वास्थ्य और फिटनेस प्रभावित होता है. हर एक व्यक्ति की बॉडी अलग तरह से रिएक्ट करती है. इसलिए बिना पुख्ता जानकारी के कोई डाइट ना अपनाएं. फैट कम करने के लिए शरीर की आवश्यकता के अनुरूप fat diet plan बनाएं.

सही मात्रा में कम कैलोरी वाला डाइट | fat diet in Hindi 

हमारा बॉडी फैट कैलोरी इनटेक और उसे कितना बर्न करता है, इस पर निर्भर करता है. सही मात्रा में कम कैलोरी वाला डाइट फैट को कम करने में सहायक होता है. यदि लंबे समय तक आप उपभोग से ज्यादा कैलरी बर्न करते हैं, तो इससे फैट कम हो सकता है.

रेजिस्टेंस ट्रेनिंग या वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज | fat diet in Hindi  |

यदि आप वजन उठाते हैं या वेटलिफ्टिंग एक्सरसाइज करते हैं, तो इससे शरीर के अंदर कैलोरी बर्न होगी. रेजिस्टेंस ट्रेनिंग से आप ज्यादा कैलरी बर्न कर सकते हैं. साथ ही संतुलित आहार लेना जरूरी है. 

भरपूर नींद लें | fat diet in Hindi |

शोध में यह बात सामने आई है कि भरपूर नींद नहीं लेने पर आपका वजन बढ़ सकता है. नींद पूरी नहीं होने से आपकी भूख बढ़ जाती है, जिससे वजन बढ़ने की आशंका रहती है. इसलिए कम से कम आठ घंटे की नींद अवश्य ले. 

तनाव कम करें | fat diet in Hindi | 

तनाव बढ़ने से लोगों में खाने से संबंधित डिसऑर्डर हो जाती है. यह फैट बढ़ने का बड़ा कारण होता है. यदि आप तनाव में होते हैं, तो शरीर कॉर्टिसोल हार्मोन रिलीज करता है. इससे स्ट्रेस हार्मोन के नाम से भी जाना जाता है. 

यह बॉडी को सूचित करता है कि आपको भूख लग रही है. इसका लेवल बढ़ने से बॉडी में फैट और स्ट्रेस बढ़ाता है. इसलिए तनावमुक्त रहें और फिटनेस बढ़ाएं.

भूख और प्यास के बीच अंतर 

कई बार प्यास लगने पर भूख जैसा महसूस होता है. कभी-कभी हमारा शरीर भूख और प्यास के बीच अंतर नहीं कर पाता. जब ऐसा लगे, तो एक दो गिलास पानी पी ले. अनचाहे भोजन करने पर वजन बढ़ सकता है. 

कोरोना वायरस की महामारी मैं लोग खाली समय में अपने फिटनेस पर ध्यान दे रहे हैं. कोई जिम जॉइन कर रहा है, तो कोई घर पर ही फैट कम करने के लिए डाइट प्लान बना रहा है. ऐसे में हमें कुछ सावधानी बरतनी चाहिए. 

जानिए बॉडी फैट से जुड़े इन मिथकों का सच 

दरअसल, हममें से कई लोग हेल्थ और फिटनेस से जुड़ी भ्रांतियों के शिकार हो जाते हैं. फैट को कम करने की चाह में हम गलत स्रोतों से जानकारी जुटा लेते हैं, जिससे नुकसान ही होता है. जाने ऐसे ही कुछ मिथक और हकीकत.  

  • मिथक : वजन कम करने के लिए कार्बोहाइड्रेट वाला डाइट लेना चाहिए.
  • सच : अक्सर नए डाइट प्लान के बारे में बढ़ा चढ़ाकर बताया जाता है. कोई भी ऐसी जादुई डाइट नहीं है, जो आपको तुरंत हेल्दी और फिट बना दे या जिससे आपका निकला पेट अचानक कम हो जाएगा. सच यह है कि कई बार ऐसे डाइट का स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है.
  • मिथक : फैट कम करने के लिए ग्रीन टी जरूरी है. 
  • सच : green tea जीरो कैलोरी वाला ड्रिंक है. इसमें प्लांट केमिकल्स पाया जाता है, लेकिन इसकी मात्रा बहुत कम होती है. बिना बैलेंस डाइट के सिर्फ दिनभर ग्रीन टी पीने से कोई लाभ नहीं होता. 
  • मिथक : खाली पेट में नींबू और शहद को गुनगुने पानी में मिलाकर पीने से वजन कम होता है. 
  • सच : यह बहुत पुरानी भ्रांति है. इसका सेवन कर सकते हैं, लेकिन इससे आपका बहुत ज्यादा फैट कम होने की गुंजाइश नहीं. प्रतिदिन का डाइट ही शरीर में फैट की मात्रा तय करता है.
  • मिथक : शरीर से जितना अधिक पसीना निकलेगा, फैट उतना ही कम होगा.
  • सच : कई जिम ट्रेनर इस तरह की बातें कहते हैं. लेकिन यह एक महज अफवाह है. सच्चाई से इस बात का कोई संबंध नहीं. 
  • मिथक : कार्डियो एक्सरसाइज करके फैट कम कर सकते हैं. 
  • सच : यह एक बड़ी भ्रांति है. जब भी आप कार्डियो एक्सरसाइज करते हैं, इसमें केवल आपकी कैलरी बर्न होती है. दरअसल, आप के खानपान व्यवस्थित करने और दिन भर एक्टिव रहने से शरीर में नए फैट नहीं बनते हैं.
Health Expertshttps://othershealth.in
Health experts: आजकल की जीवनशैली ऐसी है की लोग विभीन्न तरह की बीमारियों से पीड़ित है और दवा लेते लेते थक चुके है। Othershealth.in के माध्यम से आप अच्छे से अच्छा घरेलू उपचार और चिकित्सा कर सकते है। हम Doctors and Experts की टीम है,जिसमे चिकित्सा विशेषज्ञ के द्वारा यह जानकारी दी गयी है की हम एक अच्छी और स्वस्थ जीवन कैसे जी सकते हैं।

1 COMMENT

  1. […] वजन कम करने में सेलेरी के फायदे – अगर आप अपना वजन कम करने के बारे में सोच रहे है तो सेलेरी बहुत अच्छा उपाय है। इसमें बहुत कम कैलोरी होती है जो वसा की मात्रा को बढ़ने नहीं देती है। अगर आप डाइट कर रहे है तो सेलेरी को शामिल करना न भूले क्योंकि इसमें वसा की मात्रा शून्य होती है। इसलिए आपका वजन तेजी से कम होने लगता है। बार-बार भोजन करने से मोटापा बढ़ता है इसलिए अच्छी कैलोरी का भोजन करे जो आपको लंबे समय तक भूख का एहसास न होने दे। सेलेरी एक अच्छा विकल्प हो सकता है। […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

महारास्नादि काढ़ा के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – maharasnadi kwath uses, benefits and side effect in Hindi

महारास्नादि काढ़ा - maharasnadi kwath in Hindi आज हम बात करेंगे महारास्नादि काढ़ा maharasnadi kwath के बारे में. यह...

अश्वगंधारिष्ट फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – Ashwagandharishta uses, benefits and side effect in Hindi

अश्वगंधारिष्ट - Ashwagandharishta आज हम इस आर्टिकल में बात करेंगे Ashwagandharishta benefits in hindi के बारे में. आज हम आपको अश्वगंधारिष्ट के बारे में...

शिलाजीत रसायन वटी के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – shilajit rasayan vati uses, benefits and side effect in Hindi

शिलाजीत रसायन वटी - shilajit rasayan vati in Hindi आज हम इस Shilajit rasayan vati in hindi आर्टिकल में...

कुमारी आसव फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – kumari asava uses, benefits and side effect in Hindi

कुमारी आसव नंबर 1 - kumari asava number 1 in hindi आज के इस आर्टिकल kumari asava number 1 ke...

विडंगारिष्ट के फायदे, उपयोग और दुष्प्रभाव – vidangarishta uses, benefits and side effect in Hindi

विडंगारिष्ट - vidangarishta in hindi आज हम इस आर्टिकल में विडंगारिष्ट vidangarishta में बारे में जानने की कोशिश करेंगे. जैसा कि...